बस चलाते-चलाते खलासी की बेटी संग चलाने लगा प्यार की गाड़ी, पुलिस ने पकड़ा तो लगे 7 फेरे!

-बस चलाते-चलाते खलासी की बेटी संग चलाने लगा प्यार की गाड़ी, पुलिस ने पकड़ा तो हुआ कुछ ऐसा

सम्वाददाता। पटना/मुजफ्फरपुर।

प्यार में कोई उम्र की सीमा नहीं होती प्यार में कोई जाति धर्म नहीं होता प्यार में कोई मजहब नहीं होता प्यार पर किसी का जोर नहीं होता सही ही कहा है लोगों ने ऐसा ही एक मामला बिहार के मुजफ्फरपुर जिला से सामन आ रही है जहा एक बस चालक को खलासी की बेटी से इश्क हो गया। जब प्यार में नजदीकी बढ़ी तो वह छिपकर उसकी बेटी से मिला करता था। इसी बीच दोनो के बीच प्यार परवान चढ़ गया। जिसके बाद दोनो घर से फरार हो गए। फरार होते ही मामला सामने आया। जिसके बाद दोनो को पुलिस ने बरामद कर लिया।
मामला बिहार के मुजफ्फरपुर का है। जहा कटरा थाना परिसर स्थित शिव मंदिर में पुलिस की मौजूदगी में प्रेमी जोड़े का विवाह कराया गया। दोनों बालिग बताए जाते हैं। मामला थाना क्षेत्र के नागवारा से जुड़ा है। जहां बस चालक मोती का बस कंडक्टर की पुत्री से छह माह से प्रेम प्रसंग चल रहा था। मौका देख कुछ दिन पहले दोनों घर से निकल गए। लड़की के परिजनों ने पुलिस को आवेदन सौंप कार्रवाई की मांग की। जिसके बाद पुलिस दोनों के पीछे लगी थी।


मोबाइल लोकेशन के आधार पर दोनो को बरामद कर लिया गया। दोनों को थाने पर लाया गया। दोनो से पूछताछ की गई। उनके परिजनों को भी सूचना दी गई। दोनों ने परिजनों की मौजूदगी में खुद को बालिग बताया। इसके बाद शादी की दोनो जिद करने लगे। दोनों की खुशी देख कर परिजन भी सहमत हो गए। स्थानीय बाजार से चुनी व जयमाला समेत शादी की अन्य सामग्री लाई गई।
शादी संपन्न होने के बाद थानेदार कुमार अभिषेक, दारोगा कैलाश यादव, दीपक कुमार, प्रह्लाद कुमार, कलामुद्दीन समेत अन्य पुलिस पदाधिकारी ने वर-वधु को सुखमय वैवाहिक जीवन का आशीर्वाद दिया। इसके बाद दोनो अपने घर चले गए।

deepak