गरसंडा पुल पर प्रतिबंधित मांस गिरे रहने से आक्रोशित हुए लोग



vish
img-20200419-wa0000-85277475373482181001.jpg
img-20200419-wa0005-74006513932818183178.jpg

*प्रशासन द्वारा साफ-सफाई कर लोगों के आक्रोश को किया गया शांत




मो. अंजुम आलम।जमुई (बिहार)।


नगर थाना क्षेत्र के गरसंडा पुल पर शुक्रवार की सुबह प्लास्टिक के थैला में प्रतिबंधित मांस गिरा पाया गया। जिसे देख स्थानीय लोगों की काफी भीग लग गई।छठ पर्व को लेकर लोग आक्रोशित होने लगे। धीरे-धीरे लोगों का गुस्सा बढ़ने लगा। फोटो और वीडियो भी वायरल होने शुरू हो गए।समाज के बीच विभिन्न प्रकार की चर्चा भी होने लगी थी लेकिन ऐनवक्त पर मामला को तूल पकड़ने से जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन के सहयोग से रोक लिया गया।

सूचना के बाद फौरन एसडीओ प्रतिभा रानी के साथ बीडीओ पुरुषोत्तम त्रिवेदी, नगर परिषद पदाधिकारी अजीत कुमार, सीओ दीपक कुमार, टाउन थानाध्यक्ष चंदन कुमार सहित अन्य पदाधिकारी मौके पर पहुंच गए। जहां आक्रोशित लोगों को समझाबुझा कर शांत कराया और मामले की तहकीकात कर कार्रवाई करने की बात कही। वहीं नप के सफाईकर्मियों द्वारा गिरे प्रतिबंधित मांस को हटाया गया। साथ ही पूरे पुल की सफाई कराई गई वहीं पानी से पूरे पुल को धोया गया। बता दें कि शुक्रवार की संध्या अस्ताचलगामी सूर्य को व्रतियों द्वारा अर्ध्य दिए जाने को लेकर छठघाट सहित सभी सड़कों वो गलियों को लोगों द्वारा सफाई कराई गई थी ऐसे में प्लास्टिक की थैली में गिरे प्रतिबंधित मांस को देख लोग आक्रोशित हो गए थे। लोगों का आरोप था कि किसी असामाजिक तत्वों द्वारा मांस को जानबूझ कर फेंका गया है। यह खबर बिजली की तरह पूरे शहर में दौड़ गई। हालांकि प्रशासन की तत्परता से माहौल बिगड़ने व मामले को तूल पकड़ने से पहले ही रफा-दफा कर दिया गया। बता दें कि अज्ञात व्यक्ति द्वारा वाहन से प्रतिबंधित मांस ले जाने के दौरान पुल पर प्लास्टिक का थैला टूट कर गिर जाने की बात बताई जा रही है।


प्रतिबंधित मांस पुल पर गिरा हुआ पाया गया है। जिसकी मात्रा कम थी। ले जाने के दौरान वाहन से किसी का गिर गया होगा। फिलहाल मामले की तहक़ीक़ात की जा रही है।
प्रतिभा रानी, एसडीओ जमुई
सुबह 7 बजे तक पुल पर कुछ भी गिरा हुआ नहीं था। गिरे प्रतिबंधित मांस से यह प्रतीत होता है कि किसी ने जानबूझ कर नहीं फेंका है बल्कि ले जाने के दौरान गिरा है। फिलहाल प्रतिबंधित मांस को फौरन हटा कर साफ-सफाई करा दी गई है।
पुरुषोत्तम त्रिवेदी, बीडीओ जमुई

a2znews