स्पॉट : छठ पर्व पर दुल्हन की तरह सजी रही शहर,व्रतियों से गुलज़ार रहा नदी घाट



vish
img-20200419-wa0000-85277475373482181001.jpg
img-20200419-wa0005-74006513932818183178.jpg

*छठ पर्व को लेकर बाज़ारों की बढ़ी रही रौनक
*चौक-चौराहों से लेकर घाट तक तैनात रही पुलिस जवान




मो. अंजुम आलम।जमुई (बिहार)।


लोक आस्था का महापर्व छठ के शुरू होते ही पूरा बाज़ार दुल्हन की तरह सज गया । छठ पर्व के दौरान शहर के खैरमा, सतगामा, बिहारी, हनुमान घाट, त्रिपुरारी सिंह घाट, गरसंडा और नीमा घाट सहित विभिन्न घाट श्रद्धालुओं से गुलज़ार रहा। वीरान पड़े घाटों की रौनक चार दिनों में ही लौट गई।

छठ गीत से पूरा माहौल भक्तिमय रहा। घाटों पर जगमगाती विभिन्न प्रकार के लाइट और स्थापित की गई भगवान भाष्कर की प्रतिमा ने लोगों का मन मोह लिया। वहीं बाज़ारों में लगे झालर, मरकरी और जगमग करती लाइट ने शहर की खूबशूरती में चार चांद लगा दिया। इस महापर्व में साफ-सफाई और सजावट में लोगों ने बढ़-चढ़ कर योगदान दिया। वहीं छठ पर्व के दूसरे और तीसरे दिन पूरा बाजार विभिन्न प्रकार के फलों की दुकानों से सजी रहीं। लोगों के चहलकदमी से पूरा बाज़ार फूलों की तरह खिलता रहा। लोगों ने आवश्यकतानुसार फल व अन्य सामानों की खरीदारी की। इस दौरान लोक आस्था का महापर्व छठ में चौक- चौराहों, गलियों से लेकर घाट तक की साफ सफाई की गई थी।

वहीं बाज़ारों व घाट तक जाने वाली मार्गों में जगह जगह पर तोरण द्वार भी बनाए गए थे। चारों ओर उत्साह से भरा माहौल कायम रहा। इधर पुलिस भी एलर्ट दिखी। छठ पर्व के दौरान चौक-चौराहों से लेकर घाट तक तैनात रही। वहीं जिला प्रशासन की भी व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त रही। बारी-बारी से पदाधिकारी छठ घाट का निरीक्षण करते रहे। कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच शांति-सद्भाव से शुक्रवार की शाम अस्ताचलगामी सूर्य को अर्ध्य देने के बाद शनिवार की सुबह उदयीमान सूर्य को अर्ध्य देने के बाद पर्व का समापन हो गया।

a2znews