BREAKING:ड्यूटी पर चिकित्सक के नहीं रहने से SNCU में भर्ती नवजात की हुई मौत,दो रेफर!



vish
img-20200419-wa0000-85277475373482181001.jpg
img-20200419-wa0005-74006513932818183178.jpg

*चिकित्सक पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए स्वजनों ने किया हंगामा
*24 घंटे तक एसएनसीयू से गायब थे चिकित्सक



मो.अंजुम।जमुई।


जमुई सदर अस्पताल स्थित एसएनसीयू कक्ष में चिकित्सक की लापरवाही के बाद आखिरकार एक नवजात ने दम तोड़ ही दिया। घटना सोमवार की देर रात तकरीबन 2 बजे की बताई जा रही है। जहां भर्ती नवजात की इलाज के अभाव में मौत हो गई। इधर मौत की सूचना मंगलवार की अहले सुबह स्वजनों को होने के बाद एसएनसीयू कक्ष के समीप जमकर हंगामा किया।

चिकित्सक को बुलाने की मांग पर घंटों अड़े रहे। उसके बाद एसएनसीयू कक्ष पहुंचे चिकित्सक एसके गुप्ता द्वारा डिस्चार्ज कर नवजात का शव स्वजनों को सौंपा गया। इससे से पूर्व इलाज के अभाव में भर्ती दो नवजात की हालत गंभीर होने के बाद उसे रेफर कर दिया गया। रेफर नवजात के स्वजन शमशेर खान व एक अन्य स्वजन ने बताया कि भर्ती के वक़्त उनके बच्चे की हालात बिल्कुल ठीक थी। लेकिन सोमवार की सुबह 6 बजे से लगातार 24 घंटे तक चिकित्सक के गायब रहने के बाद बेगैर दवा के भर्ती नवजात की हालत गंभीर हो गई। जिस वजह से चिकित्सक द्वारा रेफर कर दिया गया।

24 घंटे के बाद पहुंचे चिकित्सक ने किया डिस्चार्ज:
अमरथ गांव निवासी दीपक पांडेय ने बताया कि रविवार की रात उनकी पत्नी रीना देवी का प्रसव सदर अस्पताल में हुआ था। उसके बाद बच्चे को एसएनसीयू में भर्ती कराया गया था। सबकुछ ठीक-ठाक था। सोमवार की सुबह तकरीबन 6 बजे चिकित्सक एसके गुप्ता द्वारा देखा गया था। फिर नवजात जीएनएम की देख-रेख में रह रहा था। देर रात तबियत बिगड़ी और बच्चे की मृत्यु हो गई। उन्होंने बताया कि अगर चिकित्सक रहते तो शायब नवजात की जान बच सकती थी। बता दें कि सोमवार की सुबह 6 बजे से गायब हुए चिकित्सक मंगलवार की सुबह जब पहुंचे तो आक्रोशित स्वजनों का भी सामना करना पड़ा।

नवजात को किया रेफर,एलएम हॉस्पिटल में बताया स्वस्थ्य:
मु. शमशेर खान ने बताया कि मंगलवार को चिकित्सक के ड्यूटी से गायब रहने की शिकायत करने और अखबार में न्यूज़ छपने की वजह से मंगलवार की सुबह चिकित्सक एसके गुप्ता गुस्सा में आए और नवजात को गंभीर बताते हुए रेफर कर दिया। जब नवजात को आसनसोल के एलएम हॉस्पिटल ले जाया गया तो वहां के चिकित्सक ने बिल्कुल स्वस्थ्य बताते हुए घर जाने के लिए कहा।
नवजात के मौत की जानकारी मिली है।

सदर अस्पताल में चिकित्सक का अभाव है। जिस वजह से परेशानी हो रही है। 24 घंटा ड्यूटी से चिकित्सक इनकार करते हैं। एसएनसीयू में कार्यरत दो चिकित्सक में एक अवकाश पर है।
डॉ. सैयद नौशाद अहमद, उपाधीक्षक सदर अस्पताल जमुई

a2znews