BREAKING:गायघाट में अधिकारियों की बढ़ी परेशानी,BRC,CDPO कार्यालय परिसर में पहुंचा बाढ़ का पानी

img-20200419-wa0006-72781328379817793567.jpg
img-20200419-wa0000-85277475373482181001.jpg
img-20200419-wa0005-74006513932818183178.jpg

संवाददाता। गायघाट
बाढ़ का पानी ने प्रखंड में पहुंचकर अधिकारियों की भी परेशानी बढ़ा दी है। लगातार हो रही जलस्तर में वृद्धि के बाद बाढ़ का पानी प्रखंड मुख्यालय के किसान भवन, बीआरसी भवन, सीडीपीओ कार्यालय, पशुपालन विभाग परिसर में पहुंच गया है।

इससे कहीं न कहीं प्रखंड के अधिकारीयों की परेशानी बढ़ गई है। बीडीओ विमल कुमार ने बताया कि बाढ़ का पानी आने के बाद कुछ परेशानी तो हद तक बढ़ गई है। लगातार हो रही जलस्तर में वृद्धि के बाद बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में दहशत का माहौल बना हुआ है। फिलहाल बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में समुदायिक रसोईघर भी चलाए जा रहे हैं। बाढ़ पीड़ितों को पॉलीथिन शीट, फूड पैकेट का वितरण किया गया है।

जानकारी के अनुसार बता दें कि बागमती नदी के जलस्तर में लगातार हो रही वृद्धि से बागमती किनारे के निचले हिस्से में पानी का फैलाव जारी है। जमालपुर कोदयी पंचायत के गोसाईं टोला जाने वाली मुख्य सड़क पर जगह जगह एक से डेढ़ फीट पानी बह रहा है। इससे गोसाईंटोल के करीब साठ परिवार के लोगों का गांव से निकलना मुश्किल हो गया है। वहीं केवटसा पंचायत के रमौली लचका पर पानी चढ़ जाने से यातायात बाधित है वहां निर्माणाधीन आरसीसी पुल का कार्य भी बाढ़ के कारण ठप हो गया है।

बागमती किनारे के शिवदाहा, जमालपुर कोदयी, केवटसा, बरुआरी, कांटा पिरौंछा उत्तरी, बलौरनिधि व लदौर पंचायतों के निचले हिस्से में बाढ़ का पानी फैल गया है। शिवदाहा पंचायत के महेशवाड़ा गोटोली जाने वाली सड़क पर पानी चढ़ गया है। इससे डेढ़ सौ परिवार का आवागमन बाधित हो गया है।

a2znews