भागलपुर में प्लाज्मा थेरेपी से कोविड मरीजों के इलाज की तैयारी

img-20200419-wa0006-72781328379817793567.jpg
img-20200419-wa0000-85277475373482181001.jpg
img-20200419-wa0005-74006513932818183178.jpg

संवाददाता।भागलपुर
जिले में प्लाज्मा थेरेपी से कोरोना पॉजिटिव मरीजों के इलाज की तैयारी शुरू हो गयी है।बिहार में एम्स पटना में प्लाज्मा थेरेपी से कोविड मरीजों का इलाज किया जा रहा है।मायागंज अस्पताल स्थित कोविड आइसोलेशन सेंटर के नोडल पदाधिकारी डॉ हेम शंकर शर्मा ने बताया कि अस्पताल प्रबंधन को इसकी तैयारी शुरू करने का प्रस्ताव दिया गया है। सरकार से आदेश लेने के लिए पत्र भेजा जाये।


डॉ शर्मा ने बताया कि इस समय जिले में कोरोना संक्रमित कई मरीज स्वस्थ हो चुके हैं।उनके रक्तदान से पॉजिटिव मरीजों को बहुत लाभ मिलेगा।मायागंज अस्पताल के पैथोलॉजी, मेडिसीन व ब्लड बैंक के इंचार्ज के साथ बैठक कर सहमति बनायी जायेगी। अस्पताल में प्लाज्मा डोनेट व स्लाइन से संबंधित उपकरणों की जानकारी लेने के बाद तय होगा कि मायागंज अस्पताल में भर्ती मरीजों को प्लाज्मा थेरेपी से इलाज हो सकता है अथवा नहीं।स्वस्थ हो चुके लोगों से रक्तदान करा प्लाज्मा तैयार किया जायेगा।

एक व्यक्ति से 300 एमएल रक्त लेकर इससे 100 एमएल प्लाज्मा तैयार होगा।इससे चार मरीजों को प्लाज्मा स्लाइन किया जायेगा।कोविड मरीजों के स्वस्थ होने तक उनके रक्त में कोरोना वायरस के खिलाफ एंटीबॉडी तैयार हो जाता है।इस एंटीबॉडी को दूसरे संक्रमित मरीजों के खून में मिलने के बाद वायरस की कमी होने लगती है।

a2znews