‘भारत के इन सात राज्यों में लॉकडाउन में ढील देना पड़ सकता है भारी’ डबल्यूएचओ ने जारी किया एडवाइजरी

img-20200419-wa0006-72781328379817793567.jpg
img-20200419-wa0000-85277475373482181001.jpg
img-20200419-wa0005-74006513932818183178.jpg

संवाददाता।नयी दिल्ली

भारत में कोरोनावायरस मरीजों की संख्या 1 लाख 25 हजार से अधिक हो गयी है. स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट के अनुसार देश में सबसे अधिक मरीज महाराष्ट्र में है।यहां पर अब तक कुल 44582 संक्रमित मरीज मिले हैं।इसी बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन (डबल्यूएचओ) ने सलाह जारी करते हुए कहा है कि अगर सात राज्यों में स्थिति नहीं सुधरी तो हालात बेकाबू हो जायेंगे।डबल्यूएचओ ने कहा है कि भारत में कोरोनावायरस मरीजों की बढ़ती संख्या के बीच लॉकडाउन में ढील दी गयी है. अगर ये ढील सबसे ज्यादा प्रभावित और नये केस बढ़ने वाले राज्यों में दी गयी तो, स्थिति और ज्यादा बिगड़ सकती है।डब्लूएचओ ने महाराष्ट्र, गुजरात, दिल्ली, तेलंगाना, चंडीगढ़, तमिलनाडु और बिहार के लिए एडवाइजरी जारी करते हुए कहा कि इन राज्यों में अतिरिक्त सावधानियां बरतनी पड़ेगी।अगर ऐसा नहीं किया गया तो, हालात भयावह हो जायेंगे।

लगभग 90 हजार केस- इन सात राज्यों में अभी तक तकरीबन 90 हजार केस है।इनमें सबसे अधिक महाराष्ट्र में 44582, तमिलनाडु 14753 और गुजरात में13268 केस हैं।वहीं बिहार में 2100 से अधिक केस अब तक सामने आये हैं।जबकि चंडीगढ़ में 218 और तेलंगाना में 1761 केस मिल चुके हैं।करीब 5000 नये केस- इन सात राज्यों की बात करें तो बीते 24 घंटे में करीब 5000 नये केस सामने आये हैं।महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटे में 2940 केस मिले हैं, जबकि बिहार में 170 केस मिले हैं। इन राज्यों में लगातार नये मरीज बढ़ रहे हैं. डब्लूएचओ को यही चिंता कारण बना हुआ है।

a2znews