जमीनी विवाद में मां बेटे की पीट- पीट कर हत्या!

img-20200419-wa0006-72781328379817793567.jpg
img-20200419-wa0000-85277475373482181001.jpg
img-20200419-wa0005-74006513932818183178.jpg

जमुई।संवाददाता।
जमीनी विवाद के निपटारे के लिए बिहार सरकार द्वारा सरल कानून बनाने के बाद भी जमीनी विवाद का मामला आये दिन खबरों में देखने को मिलता है। ऐसा हि मामला जमुई जिले के चंद्रदीप थाना क्षेत्र अंतर्गत छतयानी गांव में देखने को मिला। घटना सुक्रवार सुबह की है जिसमें जमीन विवाद में मां-बेटे की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतकों की पहचान नगीना चौधरी एवं उसकी मां के रूप में की , एवं दोनों के शव को पोस्टमार्टम के लिए जमुई भेज दिया गया । संदेह अनुसार हत्या का आरोप मृतक के भतीजे एवं उसके परिवार के लोगों पर लगाया जा रहा है।

जमीनी विवाद में पहले भी हो चुकी है हत्या ग्रामीणों के अनुसार बताया जाता है कि नगीना चौधरी का अपने पड़ोसी के साथ एक साल से जमीनी विवाद चल रहा था। शुक्रवार की सुबह जमीन को लेकर पड़ोसी के लोगों से फिर उसका विवाद हो गया और देखते ही देखते विवाद गहराता चला गया , इसी बिच विरोधी पक्ष के लोग लाठी- डंडे लेकर आए और नगीना तथा उसकी मां की लाठी- डंडे से जमकर पिटाई कर दी। पिटाई के कारण बेटे नगीना चौधरी की मौके पर ही मौत हो गई जबकि उसकी मां सदर अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया ।


प्राप्त जानकारी के अनुसार इसी जमीनी विवाद में एक साल पहले मारपीट में ही मृतक ( नगीना चौधरी)के चाचा बनारसी चौधरी की हत्या हो गई थी जिसके आरोप में मृतक नगीना चौधरी जेल भी जा चुका था । जमुई के एसडीपीओ रामपुकार सिंह ने बताया कि पुराने जमीनी विवाद में मारपीट करते हुए इस घटना को अंजाम दिया गया है। जिस परिवार के लोगों पर आरोप लगा है उस परिवार के भी एक शख्स की हत्या पूर्व में हुई थी जिसमें मृतक नगिना जेल भी जा चुका था । एस डी ओ सिंह के अनुसार हत्या के मामले में आरोपी की गिरफ्तारी जल्द कर ली जाएगी. पुलिस ने इस केस में छापेमारी शुरू कर दी है।

a2znews