जहां-तहां फंसे लोगों की मदद में जुटा‘बिहार फाउंडेशन’,दिल्ली समेत कई शहरों में बनाये गये राहत केंद्र

img-20200419-wa0006-72781328379817793567.jpg
img-20200419-wa0000-85277475373482181001.jpg
img-20200419-wa0005-74006513932818183178.jpg

संवाददाता।पटना

लॉकडाउन के कारण देश के विभिन्न राज्यों में फंसे बिहार के लोगों की ‘बिहार फाउंडेशन’ के जरिये मदद की जा रही है. ‘बिहार फाउंडेशन’ के संरक्षक मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और अध्यक्ष उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी हैं, लॉकडाउन के कारण देश के विभिन्न राज्यों में फंसे बिहार के लोगों की इसके माध्यम से मदद की जा रही है.
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निर्देश पर ‘बिहार फाउंडेशन’ द्वारा दिल्ली सहित अन्य शहरों में राहत केंद्र बनाये गये हैं, जहां भोजन के साथ-साथ भोजन के पैकेट बांटे जा रह हैं. इसमें खर्च होने वाली राशि का व्यय मुख्यमंत्री राहत कोष से किया जा रहा है.
इन शहरों में चलाये जा रहे राहत केंद्र:

मुख्यमंत्री के निर्देश पर ‘बिहार फाउंडेशन’ के माध्यम से महाराष्ट्र, गोवा, कर्नाटक, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल एवं सिक्किम जैसे राज्यों के कई शहरों तथा मुंबई, पुणे, नागपुर, सूरत, अहमदाबाद, गोवा, कोलकाता, हैदराबाद, बेंगलुरु, सिक्किम तथा दिल्ली में राहत केंद्र चलाये जा रहे हैं. लोगों को प्रतिदिन दोनों समय का भोजन और प्रति व्यक्ति 15 दिन के राशन पैकेट भी उपलब्ध कराये जा रहे हैं.

के एक ही परिवार के दस लोग मिले कोरोना पॉजिटिव
अब तक 3,17,731 लोगों को उपलब्ध करायी जा चुकी है राहत
28 मार्च से अब तक 3,17,731 लोगों को राहत केंद्रों पर सुविधाएं उपलब्ध करायी जा चुकी है. मुख्यमंत्री कार्यालय से प्राप्त जानकारी के मुताबिक सात अप्रैल तक देशभर में 30,144 लोगों को राशन पैकेट वितरित किये गये. इस राशन पैकेट में 5 किलोग्राम चावल, 3 किलोग्राम आटा, 1.5 किलोग्राम दाल, 500 ग्राम सरसों तेल, 500 ग्राम नमक, 2 किलोग्राम आलू, 1 किलोग्राम प्याज, 2 किलोग्राम पोहा-चूड़ा, हल्दी पाउडर 50 ग्राम, मिर्ची पाउडर 50 ग्राम, एक साबुन , गुड़-जैगरी 500 ग्राम होता है.

कई जगहों पर प्रवासी बिहारियों के लिए आवासन व चिकित्सकीय सुविधाएं भी
कई जगहों पर प्रवासी बिहारियों के लिए आवासन एवं चिकित्सकीय सुविधा की व्यवस्था की गयी है. अनेक जगहों पर अस्थायी राहत शिविर भी बनाये गये हैं. लॉकडाउन के कारण बिहार के बाहर फंसे बिहार के लोगों द्वारा ‘बिहार फाउंडेशन’ के माध्यम से किये जा रहे राहत कार्यों की प्रशंसा की जा रही है. लाभुक अपने वीडियो संदेश के माध्यम से राहत कार्यों की लगातार प्रशंसा कर रहे हैं.
बिहार में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 51 हुई
बिहार में कोरोना वायरस के 12 नये मामले सामने आने के बाद प्रदेश में कोविड-19 से संक्रमित मामलों की संख्या बृहस्पतिवार को बढ़कर 51 हो गयी है, जबकि इससे संक्रमित मुंगेर के एक व्यक्ति की 21 मार्च को मौत हो गयी थी. स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने बताया कि बृहस्पतिवार को कोरोना संक्रमण के 12 नये मामले प्रकाश में आए हैं जिनमें सीवान के 10 और बेगूसराय के दो मामले शामिल हैं.

a2znews