लॉकडाउन के दौरान दुमका में हुए गैंगरेप मामले में सात गिरफ्तार,दो सगे भाई भी आरोपियों में शामिल

img-20200419-wa0006-72781328379817793567.jpg
img-20200419-wa0000-85277475373482181001.jpg
img-20200419-wa0005-74006513932818183178.jpg

संवाददाता।दुमका

झारखंड के दुमका जिले के गोपीकंदर थाना क्षेत्र में एक किशोरी के साथ लॉकडाउन के दौरान हुए सामूहिक दुष्कर्म के मामले में पुलिस ने सात आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. सभी को हिरासत में लेकर जेल भेजे जाने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए मंगलवार को न्यायालय में पेश किया गया. सात में से दो आरोपी नाबालिग बताये जा रहे हैं.प्राप्त जानकारी के मुताबिक 24 मार्च को दुमका से उक्त किशोरी अपनी दो सहेलियों के साथ स्कूटी पर सवार होकर लॉकडाउन में गांव जाने के लिए निकली थी. दोनों सहेलियां उसे गोपीकांदर के कारुडीह मोड़ के पास उतारकर पाकुड़ की ओर चली गई थी. यहां से गांव दूर था, लिहाजा यहां किशोरी शाम 4:30 बजे तक अपने घर वालों का इंतजार करती रही, लेकिन जब घरवाले नहीं आये तो पीड़िता बगल के गांव गढ़ियापानी चली गई थी और वहां से उसने अपने बॉयफ्रेंड को बुलाकर घर तक छोड़ने का आग्रह किया था.उसका बॉयफ्रेंड अपने एक अन्य दोस्त को लेकर वहां तक पहुंचा और जंगल के रास्ते उसे बाइक पर बैठाकर गांव तक पहुंचाने के लिए निकला, लेकिन सुनसान इलाके में पहुंचकर उसके बॉयफ्रेंड तथा उसके एक अन्य साथी ने पहले उसके साथ दुष्कर्म किया. बाद में पांच अन्य लड़के वहां पहुंच गए और सब ने बारी-बारी से उसके साथ बलात्कार किया. जिसके बाद लड़की बेहोश हो गयी, तो वे लोग उसे मरा हुआ समझकर वहां से भाग गये थे. रात गुजरने के बाद दूसरे दिन वह जंगल से बाहर रेंगते हुए रोड तक पहुंची और गांव के लोगों ने उसके परिजनों को सूचित किया.

मामले की जांच के लिए एसपी ने एक एसआईटी का गठन किया था जिसके बाद कांड का उद्‌भेदन हुआ और पांच दिनों के अंदर सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया. जानकारी के मुताबिक सात आरोपियों में से दो सगे भाई हैं तो दो चचेरे. एक का तो भाई भी दो महीने पहले ही दुष्कर्म के मामले में जेल गया है.

a2znews