BREAKING:देश में कई राज्‍यों में भारी बारिश और ओलावृष्टि की आशंका

संवाददाता। नई दिल्ली।

पश्चिमी हिमालय क्षेत्र में लगातार दो पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता को देखते हुये मौसम विभाग ने दिल्ली एनसीआर और उत्तर पश्चिम भारत में बुधवार देर रात से अगले तीन दिनों तक हल्की बारिश और तेज हवाओं के कारण औसत तापमान में गिरावट की संभावना जतायी है।कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे के बीच देश में बेमौसम बारिश भी एक मुसीबत बनकर बरस रही है. बुधवार को उत्‍तर भारत एवं मध्‍य भारत के कई शहरों में तेज बारिश हुई और आधी चली. पूर्वानुमान की मानें तो अभी मौसम और बिगड़ सकता है. ताजा अनुमान के अनुसार 26 और 27 मार्च को देश के कई राज्‍यों में भारी बारिश और ओलावृष्टि की आशंका है.मौसम विभाग की क्षेत्रीय पूर्वानुमान इकाई के प्रमुख वैज्ञानिक डा. कुलदीप श्रीवास्तव ने बताया कि दिल्ली एनसीआर क्षेत्र पिछले 24 घंटों से पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव में है. इसके मद्देनजर दिल्ली और आसपास के इलाकों में बुधवार रात से तेज हवाओं के साथ हल्की बारिश होने की संभावना है. उन्होंने बताया कि दूसरे पश्चिमी विक्षोभ का असर गुरुवार को शाम से दिखना प्रारंभ होगा।


इसके कारण उत्तर में जम्मू कश्मीर एवं हिमाचल प्रदेश तथा मैदानी क्षेत्रों में दिल्ली एनसीआर और उत्तर पश्चिमी इलाकों में रात को बारिश एवं तूफानी हवाओं का दौर शुरु होगा जो कि शुक्रवार को धूल भरी आंधी के साथ कुछ स्थानों पर तेज बारिश के रूप में देखने को मिल सकता है. डा. श्रीवास्तव ने बताया कि शुक्रवार को पश्चिमी विक्षोभ का सर्वाधिक असर मौसम के मिजाज में बदलाव के कारण सामान्य औसत तापमान में तीन डिग्री तक गिरावट के रूप में दिखने का पूर्वानुमान है.इस दौरान शुक्रवार को दिल्ली और सीमावर्ती हरियाणा, पंजाब, उत्तरी राजस्थान एवं पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों में बारिश, 35 से 45 किमी प्रति घंटे की गति से तेज हवायें, धूल भरी आंधी और ओलावृष्टि भी हो सकती है. वहीं उत्तराखंड में 27 मार्च को बर्फबारी एवं बारिश की संभावना जतायी गयी है।

a2znews