पटना में मंत्री नन्दकिशोर यादव ने किया त्रिदिवसीय संगीतमय राजयोग शिविर का उद्घाटन

पटना। संवाददाता।

ट्रांसपोर्ट नगर स्थित ओंकारनाथ धाम मंदिर के निकट प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय के स्थानीय शाखा द्वारा त्रिदिवसीय संगीतमय राजयोग शिविर का उदघाटन करते माननीय मंत्री नंदकिशोर यादव,पथ निर्माण विभाग,बिहार सरकार,मुख्य अथिति मंत्री श्री प्रेम कुमार ,कृषि एवं पशुपालन विभाग, विशिष्ट अतिथि विधायक अरुण कुमार सिन्हा,विशिष्ट अतिथि अखिलेश कुमार जैन,अध्यक्ष बिहार राज्य धार्मिक न्यास परिषद,विशिष्ट अतिथि अभिषेक रंजन, महाराष्ट्र के सुप्रसिद्ध आघ्यात्मिक बी के अविनाश भाई,बी के मीना बहन एवं बी के प्रीति बहन।कार्यक्रम के प्रथम दिवस आत्म दर्शन,द्वितीय दिवस परमात्म दर्शन एवं तृतीय दिवस स्वर्ग दर्शन का कार्यक्रम सुनिश्चित है।उदघाटन के बाद बी के अविनाश भाई ने गीतों द्वारा गीता ज्ञान देते हुए कहा कि आत्म दर्शन अर्थात स्वयं की पहचान – मैं कौन हूँ?स्वामी विवेकानंद ने भी यही जिज्ञासा व्यक्त की थी।इसका उत्तर है – मैं एक श्रेष्ठ आत्मा हूँ।इस शरीर रूपी गाड़ी को चलाने वाला ड्राइवर हूँ।शरीर अगर मोबाइल के समान है,तो आत्मा सिम कार्ड है।
माननीय मंत्री श्री नंद किशोर यादव ने कहा-आज हर इंसान कभी ना कभी तनाव का सामना कर रहा है।तनावमुक्त होने के लिए संगीत एक अच्छा माध्यम है,साथ-साथ मेडिटेशन से भी तनाव से मुक्ति मिलती है।सभी भाई बहन इस कार्यक्रम से स्वस्थ, सुखी बनें,यही मेरी शुभकामना है।
माननीय मंत्री प्रेम कुमार ने कहा- आध्यात्मिकता से हीं जीवन में सुख शान्ति आती है। त्रिदिवसीय राजयोग शिविर के माध्यम से स्वयं की पहचान,परमात्मा की पहचान सभी को प्राप्त होगी और निश्चित ही जीवन में सुख,शांति और समृद्धि की वृद्धि होगी।
कार्यक्रम में बच्चों ने नृत्य प्रस्तुत कर सभी को भाव -विभोर कर दिया।स्वागत बी के संतोष भाई एवं मंच संचालन बी के भास्कर भाई ने किया।बी के मनीषा बहन, पूजा बहन,करुणा बहन,रवि भाई, विश्वनाथ भाई, शिवप्रकाश भाई, वीरेन्द्र भाई की सक्रीय भूमिका रही।

a2znews