स्पॉट:खुद से उठायी कुदाल-दौरी, बना डाली टूटी हुई सड़क!

 

सुगौली।संवाददाता।

प्रखंड क्षेत्र के दक्षिणी मनसिंघा पंचायत अंर्तगत लक्ष्मीपुर कोना गांव के 150 लोगो ने पिछले तीन दिनों से बाढ़ से क्षतिग्रस्त 200 फिट सड़क की मरम्मती व मिट्टी भराई का काम श्रमदान के माध्यम से कर एक मिसाल कायम किया है। ग्राम आपदा प्रबंधन समिति के शेख मुन्ना,उज़ैर अहमद ,सुकट सहनी, और शेख भोला के नेतृत्व में गांव के विकास के लिए पिछले मंगलवार को गांव के लोगों ने सामाजिक शोध एवं विकास केंद्र मेहसी के कार्यकर्ता हामिद रज़ा,रामजीत पासवान,कृष्णा कुमार,हसन इमाम शफी अहमद व गिरीन्द्र मोहन ठाकुर की प्रेरणा से सामाजिक स्तर पर बाढ़ से क्षतिग्रस्त सड़कों की मरम्मती व साफ सफ़ाई करने का निर्णय लिया। बैठक में लिए गए निर्णय के आलोक में चिन्हित किये गए पांच स्थलों पर करीब 200 फिट सड़क का जीर्णोद्धार ग्रामीणों के द्वारा किया गया। ग्रामीणों के द्वारा शौचालय निर्माण, सामाजिक सुरक्षा सहित अन्य कार्यों का निष्पादन प्रखंड कार्यालय से मिलकर समाधान किया जाएगा। इस अवसर पर तराना बेगम, मुर्तुजा लल्लन साह, वीरेंद्र सहनी, अब्दुल कलाम, जमीला खातून, अख्तरी बेगम, अंगूरी बेगम, हरीला बेग़म, रवीना खातून, रामचंद्र सहनी, नेक मोहम्मद, शेख भोला, परशुराम, मेहर साहनी, संपत्ति देवी, मनसा खातून , लाल मुनी देवी सहित सैकडो महिला पुरुष ग्रामीणों ने श्रमदान किया।इस सराहनीय कार्य की प्रशंसा सुगौली के तमाम ग्रामीण क्षेत्रों में हो रही है।

a2znews