जंगली जानवरों के आतंक से किसान हैं परेशान,मुक्ति दिलाने के लिए 20 को डीएम कार्यालय का करेंगे घेराव

संवाददाता।  मुज़फ्फरपुर।

====================
जंगली जानवरों के आतंक से जिले के किसान -मजदूर काफी त्रस्त हो गए हैं । पहले तो यह जानवर केबल खेत खलिहान को बर्बाद करता था,अब तो प्रतिरोध करने पर हिंसक रूप धारण कर लेता हैं। जिस कारण किसान खेती छोड़ रोजी रोटी के लिए या तो प्रदेश जा रहे हैं या फिर दूसरा रोजगार तलाश रहे हैं। स्थिति है कि पुरखों से विरासत में मिला खेती बारी भी जंगली जानवरो ने समाप्त कर हमारा पहचान मिटाने में तुला है। ऐसे में हम चुप नहीं बैठ सकते। आगामी 20 दिसंबर को जंगली जानवर के आतंक से किसान – मजदूरों को मुक्ति दिलाने की मांग को लेकर हम जिला अधिकारी के कार्यालय पर विशाल प्रदर्शन करेंगे।


उक्त एलान रविवार को काँटी के हरिचंदा ,गोरीयारा, बंगरी एवं रक्सा गांव में किसान मजदूरों को संबोधित करते हुए पूर्व मंत्री अजीत कुमार ने किया । उन्होंने कहा कि जिस प्रकार जंगली जानवर का आतंग पूरे जिला में हो गया है वैसे में वह दिन दूर नहीं कि किसान- मजदूर पूरी तरह खेती छोड़कर पेट के लिए दूसरे रोजगार में लग जाएंगे। उन्होंने प्रशासन की ओर से बार-बार अनुरोध के बावजूद इसे रोकने के लिए अभी तक कोई ठोस कदम नहीं उठाए जाने पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा की एक तरफ प्रकृति के बेरुखी के कारण किसान लगातार परेशान हैं। वहीं दूसरी ओर जंगली जानवरों ने उन्हें पूरी तरह बर्बाद कर दिया है। स्थिति है की इन पीड़ित किसान को न तो जनप्रतिनिधि का सपोर्ट मिल रहा है और न ही शासन का। जो गंभीर चिंता का विषय है।
उन्होंने किसान मजदूरों का आवाहन किया कि अब आप किसी के भरोसे न रहकर संघर्ष के रास्ते आगे बढ़े, तभी आपके समस्या का निदान होगा। उन्होंने कहा कि आगामी 20 दिसंबर को जिले के चुने हुए एक हजार किसान प्रतिनिधि के साथ हम जिला अधिकारी का घेराव करेंगे। उन्होंने कहा कि फसल बर्बादी के कारण प्रतिवर्ष राज्य सरकार का करोड़ों रुपया किसानों को क्षतिपूर्ति व अनुदान देने में व्यय हो रहा है वही राशि यदि इन जंगली जानवरों के आतंक को रोकने में लगाई जाए, तो किसान बिना सरकारी सहायता का अपने पैर पर खड़ा हो जाएगा। उन्होंने कहा कि मैं इस लड़ाई को अंतिम मुकाम तक पहुंचा जाऊंगा।


सभा की अध्यक्षता क्रमशः मुखिया इंदल साह, अरुण यादव, राजगीर यादव एवं नीरज कुमार ने किया। मौके पर रघुनाथ महतो, मनोज प्रसाद यादव, दिनेश सिंह, बच्चा माँझी, अविनाश माँझी, पंकज कुमार यादव, बबलू यादव, ज्ञानी साह, संजीव कुमार राय, सरोज पासवान ,अजय राय, रामबालक ओझा सहित कई लोगों ने सभा को संबोधित किया ।

deepak