बन्दरा में मोहम्मद साहब के जन्म दिन पर निकाली गई जुलुस,हुई तकरीर

 

बन्दरा। संवाददाता।

इस्लाम के पहले पैगम्बर और पूरी दुनिया को अमन का पैगाम देने वाले हजरत मोहम्मद साहब के जन्म दिन मिलाद उन-नबी के अवसर पर प्रखण्ड क्षेत्र में बड़े ही उत्साह और हर्षोल्लास के साथ और शांतिपूर्ण तरीके से जुलूस निकाला जाता रहा। जुलूस-ए-मोहम्मदी के माध्यम से अमन-चैन की दुआ की गयी और लोगो को मोहम्मद साहब के शांति संदेशों ,आपसी भाईचारा,यतीमो और मुफ़लिसों से प्यार करने आदि के पैगाम दिए गये। शांतिपूर्ण तरीके से निकाले गए जुलूस में बच्चे-बूढ़े सभी उम्र के लोग शिरकत करते दिखे। सभी महत्वपूर्ण स्थलों पर पुलिस के पदाधिकारियों को देखा गया। इस दौरान गोविंदपुर छपरा के स्कूल प्रांगण में तकरीर सभा का आयोजन किया गया।जिसमें अंतरजिला एवं अंतर प्रखण्ड क्षेत्र के दर्जनों मौलानाओं एवं उलेमाओं ने अपनी तकरीर पेश की।मौलाना खुर्सीद अहमद,मौलाना कमरुद्दीन, मौलाना कमरूहसन(सीतामढ़ी),मौलाना जमशेर,मौलाना अशहर,मौलाना ओबैदुल्लाह आदि दर्जनों ने अपनी खास तकरीर से पैगम्बर के संदेशों को जाहिर कर ख़ूब वाहवाही बटोरी।सभी ने नबी के जिंदगी की खूबियों को बयां किया।संचालन मो कमरुहसन एवं धन्यवाद मो खुर्शीद ने किया। इस दौरान यहां बड़गांव,पटसारा,रतवारा बैंगरी,महिनाथपुर घोसरामा,पूसा, भुसरा,सिमरा,रतवारा,बन्दरा, बड़गांव, सरफुद्दीनपुर,गायघाट,कल्याणपुर आदि क्षेत्रों के दर्जनों जुलूसों का मिलान किया जाता रहा।यहां सुबह से शाम तक हज़ारों लोगों की भीड़ जुटती रही।किसके कारण सड़क पर कई बार जाम की स्थिति बनती रही।

a2znews