झारखण्ड का कुख्यात नक्सली कुंदन पाहन भी राजा पीटर की तरह NIA कोर्ट से मांग सकता है चुनाव लड़ने की अनुमति

 

संवाददाता । रांची।

झारखंड का कुख्यात नक्सली कुंदन पाहन भी कोर्ट से चुनाव लड़ने की अनुमति मांग सकता है. खबर है कि उसके वकील ने इसका आवेदन तैयार कर लिया है. गुरुवार को सोशल मीडिया में खबर आयी थी कि कुंदन पाहन ने अपने वकील के माध्यम से एनआइए कोर्ट से राजा पीटर की तरह जेल से चुनाव लड़ने की अनुमति मांगी है. लेकिन, शाम को स्पष्ट किया गया कि कुंदन पाहन की ओर से अभी कोर्ट में याचिका दाखिल नहीं की गयी है. हालांकि, यह भी कहा गया कि उसके वकील ने इस संबंध में आवेदन तैयार कर लिया है.मई, 2017 में सरेंडर करने वाला कुंदन कई साल तक पुलिस के लिए सिरदर्द और क्षेत्र में आतंक का पर्याय था. सरेंडर करने के बाद उसने राजनीति में आने के संकेत दिये थे. रांची और खूंटी में कुंदन पाहन के खिलाफ 58 मुकदमे दर्ज हैं. उल्लेखनीय है कि डीएसपी, इंस्पेक्टर और कई पुलिसवालों की हत्या समेत 128 आपराधिक मामलों में वांछित कुंदन पाहन ने सरेंडर करते हुए कहा था कि नक्सलवाद से उसका मोहभंग हो गया है. फिलहाल वह जेल में बंद है.ज्ञात हो कि पिछले दिनों अपराध की दुनिया से राजनीति में कदम रखने वाले तमाड़ के पूर्व विधायक राजा पीटर ने रांची की नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (एनआइए) की अदालत में याचिका दायर कर जेल से नामांकन दाखिल करने की अनुमति मांगी थी. कोर्ट ने राजा पीटर की याचिका को स्वीकार करते हुए उन्हें नामांकन दाखिल करने की अनुमति दे दी है. संभवत: इसी को देखते हुए कुंदन पाहन ने भी यह कदम उठाया है.

a2znews