पिता ने बेटे को मार डाला, बहू ने लगाये संगीन आरोप, कहा- मेरे साथ अवैध संबंध स्थापित करना चाहते थे ससुर!

 

संवाददाता । अररिया

बिहार में अररिया के पलासी में तीन वर्ष बाद मायके से ससुराल आयी मंजनिया देवी के पति बिरेंद्र मंडल की उसके पिता ने बुधवार रात हत्या दी और घर से फरार हो गया. घटना की सूचना पर पलासी थाना पुलिस ने घटनास्थल महेंद्रपुर गांव पहुंचकर मृतक 26 वर्षीय बिरेंद्र मंडल के शव को कब्जे में लेते हुए पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल अररिया भेज दिया. बताया जाता है कि उक्त महिला के साथ उसके ससुर अवैध संबंध स्थापित करना चाहते थे. इसी राह में रोड़ा बनने पर उसने अपने बेटे की हत्या कर दी।

करीब आठ वर्ष पूर्व हुई थी मंजुलिया की शादी:

इस बाबत मृत युवक की पत्नी मंजुलिया देवी ने बताया कि उसकी शादी करीब आठ वर्ष पूर्व हुई थी. शादी के बाद करीब तीन माह तक ठीक-ठाक से ससुराल में पति के साथ रही. फिर सबकुछ बिगड़ने लगा. मेरे ससुर धर्मानंद मंडल मेरे साथ अवैध संबंध स्थापित करना चाहते थे. इसका विरोध करने पर मेरे पति पर कई बार चोरी का आरोप लगाकर मारपीट कर उनके हाथ-पैर तोड़ दिये.

इस घटना के बाद से ही मैं मायके में ही रहने लगी. इस क्रम में मेरे पति मायके में आकर मेरी देख-भाल करते थे. इसी क्रम में एक पुत्री हुई, जो अब छह वर्ष की है. बीते बुधवार को अपनी ससुराल महेंद्रपुर आयी. रात करीब साढ़े दस बजे अपने पति के साथ सोई थी. इसी बीच मेरे ससुर धर्मानंद मंडल का अपने छोटे पुत्र धीरेंद्र मंडल से घर खाली करने की बात पर झगड़ा होने लगा. ससुर हाथ में दबिया लेकर हत्या की नीयत से अपने छोटे बेटे पर दौड़ पड़े. मेरे पति ने उन्हें पकड़ लिया. इस क्रम में उन्होंने मेरे पति के सीने में जोरदार केहुनी से वारकर दिया. जिससे वह जमीन पर गिर पड़े. कुछ देर जमीन पर छटपटाने के बाद उसी जगह मेरे पति बिरेन्द्र मंडल कि मृत्यु हो गयी.

मेरे रोने की आवाज सुनकर आसपास के ग्रामीणों को आते देख ससुर धर्मानंद मंडल घर छोड़कर फरार हो गये. वहीं घटना की सूचना पलासी थाने को दी गयी तो पलासी थानाध्यक्ष ओमप्रकाश ने पुलिस बल के साथ घटनास्थल महेंद्रपुर गांव पहुंचकर शव को कब्जे में लेते हुए पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल अररिया भेज दिया. इधर, घटना के बाबत थानाध्यक्ष ओमप्रकाश ने बताया कि यह हत्या का मामला है. जल्द ही हत्यारे पिता को गिरफ्तार कर लिया जायेगा।

a2znews