12 किमी साइकिल चला कर रोज आता है पढ़ने,कॉलेज की गलती से नहीं बैठ पायेगा परीक्षा में

 

संवाददाता । रांची।

राहुल इंटर परीक्षा की तैयारी में जुटा है. नियमित रूप से कॉलेज भी आता है. उसका कहना है कि तैयारी अच्छी है. फर्स्ट डिवीजन से इंटर की परीक्षा पास कर जायेगा, पर राहुल के इंटर की परीक्षा में शामिल होने पर प्रश्न चिह्न लगा हुआ है. संत जेवियर कॉलेज (इंटर संभाग) के छात्र राहुल का परीक्षा में शामिल होने के लिए पंजीयन नहीं हुआ. वह इस आस में हेसाग से प्रतिदिन लगभग 12 किलोमीटर (किमी) की दूरी तय कर साइकिल से रोज कॉलेज आता है कि उसे परीक्षा में शामिल होने की अनुमति मिल जायेगी.

राहुल ने समय पर सभी जरूरी कागजात के साथ पंजीयन फॉर्म कॉलेज में जमा किया था, लेकिन कॉलेज की ओर से फॉर्म को पंजीयन के लिए जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय नहीं भेजा गया. इस कारण उसका पंजीयन नहीं हो सका।


पंजीयन नहीं होने के कारण वह 11वीं की परीक्षा में शामिल नहीं हो सका. जैक ने उसका प्रवेश पत्र ही जारी नहीं किया. इंटर की परीक्षा में शामिल होने के लिए विद्यार्थी का 11वीं की परीक्षा में पास होना अनिवार्य है. राहुल के पिता किराना दुकान चलाते हैं. आर्थिक तंगी के बाद भी पढ़ाई के 40 हजार से अधिक शुल्क दे चुके हैं. इंटर के लिए फिर से इतना शुल्क देना उनके लिए संभव नहीं है।


एक नाम के दो विद्यार्थी, कॉलेज ने एक का नाम कर दिया डिलीट, अब पंजीयन के लिए गुहार लगा रहा है छात्र:

मेरा एक साल बेकार चला जायेगा : राहुल

राहुल ने बताया कि 11वीं की परीक्षा में शामिल होने की अनुमति नहीं मिलने के बाद से वह परेशान है. उसने कॉलेज के प्राचार्य के समक्ष अपनी बातें रखी. प्राचार्य ने आश्वासन दिया कि वे प्रयास कर रहे हैं, परीक्षा में शामिल होने की अनुमति मिल जायेगी, पर अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई. अब तो परीक्षा फॉर्म जमा करने की प्रक्रिया शुरू होगी़ परीक्षा में शामिल होने की अनुमति नहीं मिलने से एक वर्ष बेकार चला जायेगा. इस संबंध में उसने मुख्यमंत्री जन संवाद में भी आवेदन दिया था.


क्या कहते हैं प्राचार्य:

प्राचार्य अजय तिर्की ने कहा कि कॉलेज के दो विद्यार्थी व उसकी मां का नाम एक था. ऑनलाइन आवेदन जमा करने के समय दोनों में समानता के कारण एक का नाम डिलीट कर दिया गया. इस कारण राहुल का पंजीयन नहीं हो सका. जानकारी मिलने के बाद इस संबंध में शिक्षा विभाग व जैक को जानकारी दी गयी. मामले में उचित कार्रवाई का आश्वासन मिला है।

a2znews