गायघाट एवं बेनीबाद में भी ताजिया मिलान में उमड़े लोग,खिलाड़ियों ने दिया शांति का पैगाम!

 

संवाददाता। गायघाट।

गायघाट में मुहर्रम की 9 और 10 तारीख का इसलाम मे बहुत बङा महत्व है। मुस्लिम बहुल समाज मे इस दिन को एक खास दिन के रुप मे मनाया जाता है ।इस दिन लोग दान पुण्य भी करते हैं मुहर्रम का महिना उर्दु कैलंडर के मुताबिक पहला महिना है’ चार महिना सबसे खास है। जिसमें मुहर्रम का महिना भी आता है ।इस महिने को गम का महिना भी कहा जाता है’ क्योंकि मुहर्रम की 10 वीं तारीख को अल्लाह के अखिरी नबी के नवासे हुसैन की शहादत हुई थी ‘इसलिए यह महिना हुसैन की शहादत का गवाह भी है। इस महीने की 9 और 10 तारीख को मुस्लिम समाज के लोग रोजा भी रखते हैं। हुसैन की याद मे महफिल भी सजाई जाती है ।

कई जगहों पर ताजिया का निर्माण होता है ।जिसमें पारंपरिक हथियारों से खिलाड़ी खेलों का प्रदर्शन करते हैं ।अखाड़ों का जलूस निकलता है इस वर्ष भी पूरी शांतिपूर्वक मंगलवार थाना क्षेत्र के तुरकटोलिया , रमपट्टी, बलौर निधि, भटगामा, बेनीबाद, रामनगर, आदि गावों से मुहर्रम का जलूस निकला। जिसमें ताजिया मिलान भी हुआ कई अखाड़ा की ताजिया का मिलान आपस में हुआ। इस दौरान बेनीबाद में अभताब, आरजु, अयुब, अलिम, भोला, सागिर, रज्जा समेत दर्जनों खिलाड़ियों ने शांतिपूर्वक खेलते हुए भाईचारे की मिशाल पेश की। ताजिया मिलान के वक्त मुहर्रम कमिटी के सभी सदस्यों की पैनी नजर थी क्षेत्र मे निकलने वाले जलूस मे खिलाड़ियों के अलावा महिला , पुरुष , बच्चे , वृद्ध सभी एक साथ नजर आए। अखाड़े पर लगाए गए लाल पीली बत्ती से अखाड़ा आकर्षण का केंद्र रहा ।

कई जगहों पर मेले जैसे दृश्य देखने को मिला ।अस्थायी रुप से दुकानें भी सजी हुई थी और खरीदारी करने वालों की भीड़ भी खूब देखने को मिली। प्रशासन की भी जगह जगह निकलने वाले जलूस पर पैनी नजर थी। वहीं मुहर्रम कमिटी को शांति समिति के सदस्यों का भी सहयोग मिला।रामनगर में डीएसपी पूर्वी के नेतृत्व में पुलिस बल काफ़ी सक्रिय रहे ।विधि वयवस्था को लेकर एसएसपी मनोज कुमार के निर्देश पर डीएसपी पूर्वी गौरव पांडेय भी पहुंचकर लोगो को आपसी सद्भाव का परिचय देते हुए खेल को शांतिपूर्वक सफल बनाने के लिए अपील की ।इस दौरान रामनगर, बेनीबाद सहित कई जगहों पर शांति वयवस्था क़ायम रखनें को लेकर गायघाट थानाध्यक्ष राजेन्द्र साह , अपर थानाध्यक्ष हरेन्द्र कुमार, बेनीबाद ओपी अध्यक्ष लाल किशोर गुप्ता , एसआई भीम सिंह, सुरेन्द्र कुमार, विनोद कुमार, एसआई महताब आलम खां दल बल के साथ मौजूद थे ।

a2znews