चंपारण के सुगौली में बाल मित्र शरण स्थली का शुभारंभ

नरेंद्र ।सुगौली(पूर्वी चम्पारण)।

प्रखंड क्षेत्र के उत्तरी छपरा बहास पंचायत स्थित सपहाँ गांव में चाइल्ड-फ्रेंडली स्पेसेस CFS (बाल मित्र शरण स्थली) का शुभारंभ किया गया है जो आपदा के दौरान या आपदा के बाद बच्चों के देखभाल का एक राष्ट्रीय मानक है। इस अवसर पर सेव दी चिल्ड्रेन दिल्ली के मीडिया कोऑर्डिनेटर गीता लामा ने बताया कि बाढ़ या अन्य आपदाओं के समय खासकर बच्चों के अंदर डर व भय व्याप्त हो जाने कारण विकास रुक जाता है। उन्होंने कहाँ कि चाइल्ड-फ्रेंडली स्पेस का लक्ष्य है कि बच्चों को नुकसान से बचाना है और उनके जीवन को आपदाओं से बाधित होने पर सामान्य स्थिति में लाना है और बच्चों के प्रति समुदाय की भावना को मजबूती प्रदान करना है।

इस अवसर पर सेव दी चिल्ड्रेन पटना के डी आर आर विशेषज्ञ मुकूल कुमार ने बच्चे और उनके अभिभावकों के साथ बात करते हुए कहा कि आपदा के समय यह बाल मित्र स्थली बच्चों के अंदर छुपे भय को अनेकों प्रकार के खेल के माध्यम से निकलने मददगार साबित होता है। साथ ही खेल के माध्यम से ही शिक्षा के प्रति बच्चों को संवेदनशील बनाया जाता है। अपने जीवन को फिर से स्थापित करने के लिए समय के साथ सक्षम बनने में सहयोगी साबित होता है। इस अवसर पर सामाजिक शोध एवं विकास केंद्र मेहसी के हामिद रज़ा, पंचायत समिति लालबाबू सहनी, केंद्र संचालिका गुड़िया कुमारी सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण व बच्चें मौजूद थे।

a2znews