आसमानी बिजली की पूर्व चेतावनी के लिए अर्थ नेटवर्क की मदद लेगी बिहार सरकार

 

संवाददाता । पटना(बिहार)।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को बाढ़ और सुखाड़ पर सभी डीएम के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग की। इसमें यह सामने आया कि फ्लैश फ्लड की वजह से उत्तर बिहार के 106 प्रखंडों में 20 लाख परिवार बाढ़ की त्रासदी झेल रहे हैं। साथ ही वज्रपात से अब तक 170 लोगों की मौत हो चुकी है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वज्रपात की पूर्व चेतावनी के लिए अर्थ नेटवर्क कंपनी की मदद लेने का प्रयास हो रहा है। फिलहाल 8.36 लाख बाढ़ पीड़ित परिवारों को रिलीफ के रूप में 502 करोड़ रुपए दिए गए हैं। बैठक में यह बात भी सामने आई कि वर्षा की कमी के कारण दक्षिण बिहार के 214 प्रखंड लगातार गंभीर सूखे की ओर बढ़ रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बाढ़ प्रभावित जिलों के डीएम को ध्वस्त मकानों और फसल क्षति का आकलन करा लेने के साथ फसल सहायता योजना और कृषि इनपुट सबसिडी के लिए अभी से तैयारी करने का आदेश दिया गया है। उन्होंने कहा कि अब जनप्रतिनिधियों की मदद से पूरे बिहार में जल, जीवन और हरियाली अभियान चलाया जाएगा। जीविका, शिक्षा सेवक, विकास मित्र और टोला सेवक भी इसमें सहयोग करेंगे।

a2znews