चमकी बुखार के जंग में सक्रिय सपूतों को पियर में किया गया सम्मानित,संगोष्ठी में वक्ताओं ने कहा:अस्तित्व के लिये है दूसरी जंग की जरूरत

संवाददाता । बन्दरा/मुजफ्फरपुर ।

सपोर्ट फाउंडेशन के तत्वावधान में ” चमकी बुखार के चक्रव्यूह में मुजफ्फरपुर के मासूम और लीची का अस्तित्व ” विषय पर परिचर्चा सह पांचवी श्री राजदेव प्रसाद ठाकुर प्रतिभा सम्मान 2019 समारोह आयोजित पीयर में शुक्रवार को किया गया ।
इसमें दसवीं और बारहवीं में उत्कृष्ट सफलता प्राप्त छात्र छात्राओं को सम्मानित किया गया ।
साथ ही चमकी बुखार से पीड़ित बच्चों व परिजनों की सेवा तथा बड़े संभावित पीड़ित समुदाय जो इसकी चपेट में आ सकते है । उनके बीच जागरूकता फ़ैलाने में सामाजिक क्षेत्र में अग्रणी भूमिका निभाने वाले सामाजिक कार्यकर्ताओं को श्री राजदेव प्रसाद ठाकुर प्रतिभा सम्मान 2019 से सम्मानित किया गया । इस सम्मान समारोह का उद्धाटन आरएसएस के क्षेत्र (बिहार व झारखण्ड ) संपर्क प्रमुख श्री अनिल कुमार ठाकुर ने करने के बाद कहा कि लीची को जिस तरह से चमकी बुखार के प्रकरण में बदनाम किया गया वो अंतरष्ट्रीय बाजार की शाजिश का हिस्सा भी हो सकता है । मुख्य अतिथि के रूप में राजेंद्र कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ आरसी श्रीवास्तव ने कहा कि स्वच्छता जागरूकता और ईलाज की तत्परता बीमारी को कम कर सकती है । विशिष्ट अतिथि राष्ट्रीय कृषि अनुसंधान संस्थान के निदेशक डॉ विशाल नाथ ने लीची को बीमारी के कारण से अलग बताया । उन्होंने कहा कि जहाँ लीची के पेड़ कम हैं वहां भी बच्चे ज्यादा मरे हैं। उन्होंने कहा कि अपने सभी फोरम तथा राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय मीडिया को वो कई बार बता चुके हैं कि लीची निर्दोष है ।इसे तो बेवजह बदनाम किया जा रहा है। विशिष्ट अतिथि के रूप में अपोलो के पूर्व वरिष्ठ डॉक्टर डॉ सत्यप्रकाश ने कहा कि कुपोषण के शिकार बच्चों को ही यह बीमारी ने चपेट में लिया है। अगर यह मामला लीची का होता तो सभी वर्गों के बच्चे चमकी बुखार की चपेट में आते ।


अध्यक्षता कर रहे बिहार लीची उत्पादक संघ के अध्यक्ष श्री बच्चा प्रसाद सिंह ने कहा कि लीची को साजिश का शिकार बनाया जा रहा है। जिस का कोई आधार नहीं है ।इसके लिए वो अब अदालत में जायेंगे और लीची उत्पादकों की हकमारी नहीं होने देंगे ।मंच संचालन रंगीश ठाकुर , अध्यक्ष ,सपोर्ट फाउंडेशन ने किया ।मौके पर चमकी बुखार से पीड़ित बच्चों व परिजनों की सेवा तथा बड़े संभावित पीड़ित समुदाय जो इसकी चपेट में आ सकते है ।उनके बीच जागरूकता फ़ैलाने में सामाजिक क्षेत्र में अग्रणी भूमिका निभाने वाले सामाजिक कार्यकर्ताओं को श्री राजदेव प्रसाद ठाकुर प्रतिभा सम्मान 2019 से सम्मानित किया गया।जिसमें डॉ आकांक्षा अभिषेक,सोनू आनंद ,अरुण ओझा,अविनाश कुमार , क्षितिज अनुपम,विनोद कुमार दास ,संजीव सिंह,शशि रंजन कुमार, ठाकुर सर्वेश रंजन,प्रिंशु मोदी,अविनाश झा,
भारतेन्दु,अनीश कुमार,वीरेंदर कुमार, शिवम सोनु, विपिन कुमार,विक्रम कुमार,कृष्णगोपाल,सुधीर कुमार पांडेय आदि शामिल थे।वहीं जल संरक्षण पर अभूतपूर्व योगदान के लिए कुलपति,राजेंद्र कृषि विश्व विद्यालय पूसा को सपोर्ट फाउंडेशन ने लाइफ टाइम अचीवमेंट से सम्मानित किया ।

a2znews