स्पॉट : बागमती नदी में आई बाढ़ में डूबा मोतिहारी के पताही का एक दर्जन गांव

 

नरेंद्र। मोतिहारी(बिहार)।

*जिहुली , देवापुर , पदुमकेर सहित एक दर्जन गांवों के हजारो घरों में घुसा बाढ़ का पानी।

*बागमती एवं लालबकेया नदी में आया है भयानक बाढ़।

*लोग ऊंचे स्थान पर पहुँच बचा रहे है अपनी जान।

पताही बागमती एवं लालबकेया नदी में आई भयानक बाढ़ का पानी आधा दर्जन पंचायतो के हजारो घरों में प्रवेश कर गया है , बाढ़ आने के बाद बाढ़ पीड़ित ऊंचे स्थान पर पहुँच शरण ले रहे है । बागमती एवं लालबकेया नदी में आई बाढ़ का पानी शनिवार के अगले सुबह तक देवापुर , जिहुली , पदुमकेर , गोनाही , बखरी , बेलाहीराम पंचायत के सभी गांवों में फैल गया है , बाढ़ का पानी इन दर्जनों गांवों देवापुर , खोरीपाकर , लहसनिया , जिहुली , अल्सेरपुर , तीनहिया , पदुमकेर , जरदाह , खरिहनिया , बसहिया , गोनाही , कल्याणपुर , सुगापिपर , कोदरिया सहित कई गांवों के हजारो घरों में प्रवेश कर गया है।

जिससे हजारो घरों में रखे अनाज एवं अन्य समान बाढ़ के पानी मे डूब जाने के कारण खराब हो गए है साथ ही इन सभी गांवों जे खेतो में लगे धान के फसल एवं बिचरे डूब गए है । सबसे बुरा हाल है जिहुली , देवापुर एवं पदुमकेर पंचायत के लोगो का है जिहुली एवं पदुमकेर गांव का संपर्क टूट गया है दोनों पंचायत के सभी सरक पर 5 से 6 फुट पानी फैल गया है खबर लिखे जाने तक इन गांवों में प्रसासन के द्वारा नाव की बेवस्ता नही किया गया है लोग जान जोखिम में रख ऊंचे स्थलों पर शरण ले रहे है । खबर लिखे जाने तक दोनो नदियों के जलस्तर में लगातार बृद्धि हो रही है ।

डीएम रमन कुमार , डीडीसी अखिलेश कुमार सिह , पकड़ीदयाल एसडीओ श्री मेधावी , सिओ रोहित कुमार देवापुर पहुँच बाढ़ का जायजा लिया डीएम रमन कुमार ने बताया कि बागमती एवं लालबकेया नदी के जल स्तर में लगातार बृद्धि हो रही है और इन दोनों नदियों के बाढ़ का पानी देवापुर टूटान से निकल देवापुर , जिहुली , पदुमकेर पंचायत सहित कई गांव में फैल गया है। जिहुली एवं पदुमकेर गांव में बाढ़ पीड़ितों को सुरक्षित स्थान पर पहुचने के लिय एक एक बोट को भेजा गया है उंन्होने बताया कि प्रसासन के लोग सबसे पहले बाढ़ में फसे लोगो को सुरक्षित निकाल ऊंचे स्थान पर लाने का कार्य कर रहे है देवापुर में पकड़ीदयाल एसडीओ श्री मेधावी एवं सिओ रोहित कुमार अन्य कर्मचारियों के साथ कैम्प कर रहे है।

a2znews