बन्दरा के सकरी में जूनियर-सीनियर छात्र-छात्राओं ने वृक्षारोपण कर बड़ों को दिया सन्देश

बन्दरा । संवाददाता।

भीषण जलसंकट एवं सुखाड़ से हर कोई परेशान है।सरकार की नलजल योजना एवं वानिकी योजना भी इस संकटों को टालने में नाकाफी हुई।बड़े-बुजुर्ग भी अबतक ऐसे जलसंकट देखने-सुनने की बात से इंकारते हैं।ऐसे में मंगलवार को प्रखण्ड के मुन्नी-बैंगरी पंचायत के सकरी मन गांव में निजी शिक्षण संस्थान की जूनियर-सीनियर छात्र-छात्राओं ने जलसंकट से निपटने तथा पर्यावरण संरक्षण के लिये वृक्षारोपण किया।इन नौनिहाल बच्चों ने वृक्षारोपण कर बड़ों को एक बड़ा संदेश देने की कोशिश की।इससे पहले इन छात्र-छात्राओं ने पहले एक ‘जलसंकट एवं पर्यावरण संरक्षण’ विषय पर परिचर्चा भी आयोजित की।जिसमें उपस्थित छात्रों ने वर्तमान प्राकृतिक प्रकोप एवं पेय जल संकट पर चिंता जताया गया । छात्रों ने कहा कि अबतक के जीवन में घर-समाज के बड़े बुजुर्गों ने भी ऐसी जलसंकट कभी नहीं देखी-सुनी थी।वे भी वर्तमान हालात पर गहरी चिंता जता रहे हैं।इस हालात से निपटने के लिये सभी बच्चों ने अपने स्तर से पौंधा रोपन का अभियान चलाने का निर्णय लिया । कहा कि जलसंकट एवं सामयिक वर्षा के लिये वृक्षारोपण का अभियान ही एकमात्र विकल्प है। चर्चा के बाद बच्चों ने सामुहिक रूप से आम का पेड़ लगाकर बड़ों को सन्देश देने की कोशिश की।छात्रों ने कहा कि बड़ो-बुजुर्गों या किसी सरकारी या गैरसरकारी संस्थानों का संरक्षण एवं मार्गदर्शन एवं ससमय पेड़ उपलब्ध कराएं जाएं मिले तो सभी बच्चों का दल क्षेत्र में जगह-जगह पेड़ लगाने का अभियान भी चलाने को तैयार हैं।अभियान में सन्नी,सचिन,शिवम,गौतम, राजनन्दनी,मुस्कान,सुनीता,मीता,साजन,सरिता, सुनीता, राजा,रजनी,ऋतु,आदि दर्जनों छात्र-छात्राएं शामिल थे।

सुख चुका है इलाके के प्रायः जलस्त्रोत:

क्षेत्र की सभी नई-पुरानी पोखर,कुआं तथा बागमती एवं बूढ़ी गंडक नदी सुख गयी हैं। सकरी मन एवं सिमरा मन भी सुख चुका है।नदियों एवं पोखरों के बेसिन में दरार पड़े हैं।70 प्रतिशत चापाकल सुख चुके हैं। पम्पिंग सेट और मोटर भी जबाब दे चुके हैं। ऐसे हालात में प्रखण्ड जलसंकट के चपेट में हैं।सीनियर सिटीजन के अध्यक्ष श्यामनन्दन ठाकुर ने कहा कि इन छोटे बच्चों के द्वारा इस समय स्वतः रूप से वृक्षारोपण करना सराहनीय है।बड़ो के लिये सबक भी है।सीनियर सिटीजन भी आसपास में जन जागरूकता अभियान भी चलाएगा तथा युवाओं को भी इस अभियान में सहभागिता से जोड़ेगा। सड़कों एवं सरकारी स्थलों के अलावे प्राइवेट स्थलों पर भी वृक्षारोपण के लिये अभियान चलाए जाएंगे तथा लोगों को इसके लिये प्रेरित भी किये जायेंगे। सीनियर सिटीजन के सदस्यों ने एक हज़ार वृक्षारोपण का संकल्प लिया है।

a2znews