ग्रामीणों ने निकाला मौन कैंडिल मार्च, श्याम पंजिकार को दिया श्रद्धान्जली

कुमार सुबोध सिंह | शंभूगंज/बांका

*कैथा गांव के मतदाताओ ने प्रशासन से रखी मांग, अपराधी हो गिरफ्तार तब करेगें मतदान

शंभूगंज प्रखंड क्षेत्र के विरनौधा पंचायत के कैथा गांव के किसान श्री से संम्मानित श्याम पंजिकार उर्फ संजय पंजिकार की हत्या के घटना के बाद ग्रामीणो ने मौन धारण कर केंडिल मार्च निकालकर श्रद्धांजली दिया । इस कार्यक्रम व केंडिल मार्च में इस गांव के एक हजार से भी ज्यादा महिला व पुरूष ग्रामीणो ने भाग लिया । कैथा गांव स्थित उनके आवास पर से निकला ये मौन जुलूश केंडिल मार्च शंभूगंज बाजार से होकर फिर गांव आकर समाप्त हुआ । इस दौरान कैथा गांव के मतदाताओ ने प्रशासन से इस हत्या कांड की घटना को लेकर एक मांग रख दिया है । ग्रामीण दिवाकर पंजिकार, शैलेश कुमार झा, बाबू साहब झा सहित सैकड़ो से ज्यादा मतदाताओ ने स्पष्ट कहा कि पुलिस प्रशासन जब तक श्याम पंजिकार उर्फ संजय पंजिकार हत्या कांड के घटना के सभी अपराधी को गिरफ्तार नही कर करती है तो वे लोग इस लोक सभा चुनाव का मतदान का बहिष्कार कर वोट नही देगें ।

कैथा गांव के इतिहास में यह पहली घटना है जब ग्रामीणो ने गांव के किसान श्याम पंजिकार उर्फ संजय पंजिकार की हत्या के बाद वोट का बहिष्कार कर दिया हो । ग्रामीणो के इस रूख से पुलिस प्रशासन भी दबाब में आ गई है । बता दे कि सोमवार को ही शंभूगंज प्रखंड क्षेत्र के विरनौधा पंचायत के कैथा गांव के प्रसिद्ध किसान श्याम पंजिकार उर्फ संजय पंजिकार का मोटरसाइकिल से असरगंज जाने के दौरान अपराधियो ने कष्टिकरी मोड़ के समीप बझोलीया के पास गोली मार कर हत्या कर दिया था । इधर शंभूगंज पुलिस ने बताया कि इस कांड के नामजद अभियुक्त को गिरफ्तार कर बाथ थाना की पुलिस पुछ ताछ कर रही है । जल्द ही हत्या कांड की इस गुत्थी को सुलझा लिया जायेगा । वही शंभूगंज बीडीओ सुरेन्द्र प्रसाद ने बताया कि कानून अपना काम कर रही है । इस कांड के दोषी नही बच पाएगें । उन्होने कैथा गांव के मतदाताओ से मतदान करने की अपील किया है ।

a2znews