ब्रेकिंगः ATM बदल कर एकाउंट से पैसा उड़ाने वाला युवक गिरफ्तार

 

*यूनियन बैंक के एटीएम से ग्राहकों के साथ कि जा रही थी धोखाधड़ी

*एटीएम से पैसा निकालने के लिए आया था व्यक्ति

*पैसा निकालने के दौरान युवक ने ATM की कर ली थी फेरबदल

मो.अंजुम आलम,जमुई (बिहार)।

साइबर क्राइमर काफी तीव्र गति से बढ़ रहा है।लोगों को ठगी का शिकार बना कर एकाउंट से पैसा उड़ाने का सिलसिला जोर-शोर से चल रहा है।ऐसे ही एक मामला सामने आया है जहाँ शहर के कचहरी चौक स्थित यूनियन बैंक के ATM से पैसा निकालने आये चंद्रदीप थाना क्षेत्र के कोदवारिया गांव निवासी रामवृक्ष रविदास व्यक्ति के ATM कार्ड को एक युवक ने पैसा निकालने के बहाना से फेर-बदल कर लिया।लेकिन एटीएम से पैसा नहीं निकलने को लेकर व्यक्ति ने अपने एटीएम को बार-बार मशीन में डालने लगा पैसा नहीं निकलने की वजह से जब व्यक्ति ने अपने एटीएम को देखा तो एटीएम बदला हुआ था।उसके बाद युवक को पकड़ कर ब्रांच मैनेजर के पास ले जाया गया तब लोगों ने युवक के पास से व्यक्ति का बदला हुआ एटीएम कार्ड लिया।फिर पुलिस को बुलवा कर युवक के हवाले किया गया।वहीं पुलिस युवक को गिरफ्तार कर थाना ले आई और पीड़ित के आवेदन पर प्राथमिकी दर्ज कर जेल भेज दिया गया।गिरफ्तार युवक की पहचान सोनो थाना क्षेत्र के भिठरा गांव निवासी विनोद कुमार के रूप में हुई है।

वहीं दूसरी ओर इसी तरह का एक और मामला कचहरी चौक के ही समीप स्टेट बैंक के एटीएम में सामने आया।जहाँ शहर के महिसौड़ी मोहल्ले निवासी गुड्डन कुमार सिंह पैसा निकालने आये थे।पैसा नहीं निकलने को लेकर गुड्डन सिंह ने एटीएम में मौजूद गार्ड को बुलाया लेकिन गार्ड ने खुद जाने के बजाए किसी दूसरे लड़के को भेज दिया।हालांकि उस लड़के ने व्यक्ति को बताते हुए एटीएम के साथ छेड़-छाड़ की लेकिन पैसा नहीं निकला।उसके बाद गार्ड ने कहा कि थोड़ा देर में बैंक खुल जायेगा तब बैंक से ही पैसा निकाल लीजिएगा।फिर बैंक खुलने के बाद गुड्डन सिंह बैंक के मशीन में एटीएम कार्ड को स्वीप करने लगे तभी एटीएम कार्ड पर उसकी नज़र पड़ी जो बदल ली गई थी।कुछ ही देर के बाद जबतक वो अपना एटीएम बन्द करवाते तब-तक एकाउंट में रखा 9 हज़ार रुपये निकाले जा चुके थे।उसके बाद पीड़ित व्यक्ति ने सदर थाना में आवेदन देकर प्राथमिकी दर्ज कराई।

बताते चलें कि अधिकांश चोर,उचक्के शहर में बैंक और एटीएम के इर्द-गिर्द ही भटकते रहते हैं।आये दिन हमेशा बैंक ग्राहकों के साथ छिनतई, पॉकेट मारी जैसी घटना को अंजाम दे रहे हैं।फिर भी पुलिस प्रशासन की नज़र घूम रहे चोर उचक्कों पर नहीं पड़ती।इधर पीड़ित गुड्डन सिंह ने एटीएम के गार्ड पर भी आरोप लगाते हुए आवेदन में लिखा है कि जिस युवक ने एटीएम कार्ड बदला है उसे गार्ड ने ही बताने के लिए भेजा था।इससे साफ जाहिर होता है कि एटीएम गार्ड की भी चोर-उचक्कों से मिलीभगत रहती है।

a2znews