ब्रेकिंगः प्रखंड परिसर में हुई दर्जनों कौओं की मौत,वर्ड फ्लू की आशंका से सहमें लोग

img-20200419-wa0006-72781328379817793567.jpg
img-20200419-wa0000-85277475373482181001.jpg
img-20200419-wa0005-74006513932818183178.jpg

कुमार सुबोध सिंह | शंभूगंज/बांका

शंभूगंज प्रखंड क्षेत्र के लालमणिचक गांव के समीप कौआ मरने की चर्चा खत्म भी नही हुआ था कि गुरूवार को प्रखंड परिसर में ही जहाँ तहाँ एक दर्जन से भी ज्यादा कौआ की मौत होने से लोग वर्ड फ्लू की आशंका से सहमें हुए है । बता दे कि इसके पूर्व धोरैया व असरगंज में वर्ड फ्लू के कारण पक्षियो की मौत के घटना के बाद अब शंभूगंज में कौआ की मरने का सिलसिला लगातार जारी है।

गुरूवार को प्रखंड परिसर में कौआ मरने की सुचना जब दैनिक भास्कर प्रतिनिधि ने पशु चिकित्सक को दिया तो पशु अस्पताल के चिकित्सक डॉ शशिधर मंडल अपने कर्मी के साथ घटना स्थल पर पहुंचकर मृत कौआ को एकत्र कर जमीन खोदकर गाड़ दिया । पशु चिकित्सक डॉ शशिधर मंडल ने बताया कि मृत कौआ को जांच के लिए भेजा जायेगा ।

उन्होने बताया कि कौआ की मौत वर्ड फ्लू से हो रहा है या किसी अन्य कारणो से इसका पता जांच के बाद ही चलेगा । वही प्रखंड कृषि पदाधिकारी अरूण कुमार राम ने बताया कि अगर वर्ड फ्लू रहता तो अन्य पक्षी की भी मौत होती । उन्होने आशंका व्यक्त किया है कि किसी पुआईजनिंग के कारण मवेशी की मौत के बाद उसके जहरीली मांस खाने से भी कौआ का मौत हो सकता है या रबी फसल में कीट नाशक दवा के छिड़काव के कारण मरे कीट खाने से भी कौआ का मौत हो सकता है ।

जबकि कुछ लोग मोबाईल टॉवर के रडियेसन के कारण मौत की वजह मान रहे है । फिलहाल कौआ का मौत का जो भी कारण हो । लेकिन यहाँ के लोग वर्ड फ्लू की आशंका से एक बार फिर सहमे हुए है ।

a2znews