बोले DIG मनु महाराज,पहले नक्सलियों व अपराधियों को दी जाएगी शांति का पैगाम,नहीं माने तो लिया जाएगा एक्शन!

 

*नसालियों को मुख्य धारा से जोड़ना होगी हमारी पहली प्राथमिकता

*डीआईजी का पदभार लेने के बाद पहली बार जमुई पहुँचे मनु महाराज

*सीआरपीएफ,एसटीएफ,कोबरा बटालियन सहित अधिकारियों के साथ एसपी आवास पर कि बैठक

मो.अंजुम आलम,जमुई (बिहार)।

मुंगेर प्रक्षेत्र के डीआईजी मनु महाराज के जमुई पहुँचते ही पुलिस प्रशासन हरकत में आ गई।जमुई पहुंचते ही आईपीएस अधिकारी मनु महाराज पहली बार जिले के सभी पुलिस पदाधिकारियों से मुखातिब हुए और साथ ही नक्सली से सम्बंधित जानकारी भी ली।

एसपी जगुनाथरेड्डी के आवास पर सीआरपीएफ, एसटीएफ,कोबरा,एसएसबी सहित कई पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक करते हुए नसालियों की गतिविधि पर जोर-शोर से नज़र बनाये रखने की बात कही।बैठक के दौरान पदाधिकारियों ने प्रोजेक्टर के जरीय हार्डकोर नक्सली अरविंद यादव,सिद्धु कोड़ा,
पिंटू राणा, प्रवेश सहित कई नक्सलियों के फोटो डीआईजी को दिखाया गया।

बैठक के दौरान मुंगेर प्रक्षेत्र के डीआईजी मनू महाराज ने कहा कि सभी वांटेड नसालियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए।और साथ ही बिहार सरकार के द्वारा चलाये गए शराब बंदी कानून को ईमानदारी से लागू किया जाए।पत्रकारों के सवालों पर उन्होंने कहा कि नक्सलियों को मुख्य धारा से जोड़ना और शराब बंदी को पूरी तरह से लागू करना ही हमारी पहली प्राथमिकता होगी।मुख्य धारा में नसालियों को लाने के लिए अभियान चलाया जाएगा।सभी नक्सली और अपराधी जो भी मुख्य धारा से भटक गए हैं उसे पुनः मुख्य धारा में जोड़कर आज़ादी से ज़िन्दागी व्यतीत करने दिया जाएगा।

आगे उन्होंने कड़े रुख इख्तियार करते हुए कहा कि पहले तो नसालियों और अपराधियों के पास शांति और मुख्य धारा में जुड़ने का पैगाम दिया जाएगा।अगर इस शांति पैगाम को ठुकराया जाएगा तो पुलिस भी विकराल रूप इख्तियार कर नसालियों व अपराधियों के गढ़ को विध्वंस कर देगी।

इतना ही नहीं शराब कारोबारियों को भी इस गोरख धंधे से सतर्क किया है।मौके पर एसपी जगुन्नाथ रेड़डी, एसडीपीओ रामपुकार सिंह के अलावा काफी संख्या में एसएसबी,सीआरपीएफ, कोबरा सहित कई पुलिस अधिकारियों शामिल थे।

a2znews