मुजफ्फरपुर: जिला पदाधिकारी सुब्रत कुमार सेन ने समाहरणालय सभागार में की बैठक,कई निर्देश जारी

दीपक कुमार तिवारी।मुजफ्फरपुर।

*जिला पदाधिकारी सुब्रत कुमार सेन ने समाहरणालय सभागार में कई महत्वपूर्ण विषयों पर संबंधित पदाधिकारियों एवं पुलिस पदाधिकारियों को निदेश दिया।

 

भूमि विवाद के निपटारा हेतु प्रत्येक शनिवार को थाना में होने वाले बैठकों सक्रिय और अनिवार्य रूप से करने का निदेश दिया गया और गुणवता के साथ निष्पादन करते हुए आॅनलाईन अपलोड करने का भी निदेश दिया गया। यदि अंचल में एक से अधिक थानें है, तो राजस्व पदाधिकारी थाने में उपस्थित होंगे। निर्वाचन में विधि-व्यवस्था संधारण को लेकर उन्होंने 107 सी.सी.ए. तथा अन्य निरोधात्मक कार्रवाई करने का निदेश दिया गया। साथ ही बाउंड डाउन करने का भी निदेश दिया गया। अवैध शराब की जब्ती, छापेमारी, तथा अधिहरण वादों का ससमय निपटारा करने का भी निदेश दिया गया। बूथों पर मूल-भूत बुनियादी सुविधाएं का भी भौतिक रूप से सत्यापन करने का निदेश दिया गया। सरस्वती पूजा 14 फरवरी को मनाया जाएगा। 15 फरवरी देर शाम तक विर्सजन करने का निदेश दिया गया है। उन्होंने इससे पूर्व दोनों अनुमंडल पदाधिकारी अपने-अपने क्षेत्राधीन शान्ति समिति की बैठक करने का निदेश दिया गया। बिना अनुज्ञप्ति के कोई भी प्रतिमा/जुलुस नहीं निकलेंगे। डी.जे. पर पूर्ण प्रतिबंध लगाया गया है। सभी. डी.जे. संचालक से बाउंड डाउन प्रपत्र भड़ने का निदेश दिया गया। विर्सजन के दौरान नदी, तलाबों, पोखरों पर गोताखोरों की प्रतिनियुक्ति का निदेश आपदा प्रभारी को दिया गया। खनन में राजस्व लक्ष्य को पूरा करने का निदेश जिला खनन पदाधिकारी को दिया गया। अवैध शराब जब्ती का विनिष्टिकरण तथा संबंधित वाहनों का अधिहरण अविलम्ब निष्पादित करने को कहा गया। चेक पोस्ट को गुणवता के साथ प्रभावी करने को कहा गया।

सड़क सुरक्षा में 123 हिट एण्ड रन मामले में मुआबजा के लिए आश्रितों की सूची अप्राप्त रहने पर निष्पादन नहीं हो पा रहा है। उन्होंने ब्लैक स्पाॅट चिन्हित करने का निदेश दिया। बैठक में वरीय पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार, उप विकास आयुक्त आशुतोष द्विवेदी, नगर आयुक्त नवीन कुमार, पुलिस अधीक्षक अवधेश सरोज दिक्षित, सी.टी. एस.पी. भानू प्रताप, अनुमंडल पदाधिकारी, पूर्वी/पश्चिम, सभी एस.एच.ओ. तथा सभी जिला स्तरीय पदाधिकारी उपस्थित थें। विडियो काॅन्फ्रेंस के माध्यम से अंचलाधिकारी एवं प्रखण्ड विकास पदाधिकारी भी रहें।

deepak