चकिया स्वर्णाभूषण दुकान लूटकांड का पटाक्षेप, लूट के सामान समेत चार गिरफ्तार : एसपी

चंपारण ब्रेकिंग::

-चकिया स्वर्णाभूषण दुकान लूटकांड का पटाक्षेप, लूट के सामान समेत चार गिरफ्तार : एसपी

– स्थानीय अपराधी के इशारे पर मुजफ्फरपुर और केसरिया के पेशेवर अपराधियों ने बीते 9 मई से बनाइ योजना और 25 को दिया अंजाम

मोतिहारी/ राजन द्विवेदी।

पुलिस अधीक्षक डॉ. कुमार आशीष के सशक्त नेतृत्व में आज मोतिहारी जिला पुलिस टीम ने हालिया चकिया में 25 भी को घटित स्वर्ण आभूषण दुकान लूटकांड का सफलता पूर्वक पटाक्षेप कर दिया है। इस कार्रवाई में पुलिस ने करीब 1 किलोग्राम चरस, लूटे गए 705 ग्राम सोना का आभूषण, 2 किलो 830 ग्राम चांदी आभूषण, एक पिस्टल, पांच जिंदा कारतूस को बरामद करते हुए चार अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार अपराधियों का केसरिया एवं चकिया में आपराधिक इतिहास पाया गया है। एसपी ने बताया कि इस पूरे अभियान का नेतृत्व चकिया के एसडीपीओ संजय कुमार ने किया। जबकि इस अभियान में धनंजय कुमार, थानाध्यक्ष चकिया, रोहित, प्रभारी तकनीकी सेल, शैलेंद्र कुमार, थानाध्यक्ष केसरिया, सुनील कुमार सिंह, थानाध्यक्ष मेहसी, एसआई रवि रंजन, सिपाही मुन्ना कुमार, कुमार चिरंजीवी एवं नित्यानंद दूबे ने सक्रिय भूमिका निभाई।


पुलिस अधीक्षक ने विशेष टीम के सभी सदस्यों को इस सफलता के लिए बधाई देते हुए प्रशस्ति पत्र देने की घोषणा की है। वहीं गिरफ्तार अभियुक्तों में मुजफ्फरपुर जिला के साहेबगंज थाना क्षेत्र स्थित मकरी टोला निवासी रायबहादुर सहनी, साहेबगंज थाना क्षेत्र स्थित रूपछपरा गांव निवासी उपेंद्र यादव, चकिया थाना क्षेत्र स्थित कोयला बेलवा निवासी विवेक कुमार एवं मुजफ्फरपुर जिला के साहेबगंज थाना क्षेत्र स्थित अहियापुर गांव निवासी पंकज कुमार के नाम शामिल हैं।
बताया कि 25 मई को लूट की घटना में 6-7 की संख्या में शामिल सशस्त्र अपराधियों ने दुकान मालिक के पुत्र पवन एवं सुधीर कुमार सर्राफ को गोली मार कर जख्मी कर दिया। साथ ही दुकान से सात किलो सोना और 50 किलो चांदी के आभूषण लूट कर भाग निकले। लूट की घटना की सूचना पर एसपी ने चकिया एसडीपीओ के नेतृत्व में 11 सदस्यीय एसआईटी का गठन किया। जिसके बाद पुलिस टीम ने मामले का सफलतापूर्वक पटाक्षेप कर लिया, जिसकी चर्चा लोगों के बीच होने लगी है।

deepak