अगर ग्रामीण क्षेत्रों में शराब बिकी तो चौकीदार पर करें कार्रवाई : मंत्री

*वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से सादे ड्रेस में चौकसी कराने का दिया निर्देश


मोतिहारी । राजन द्विवेदी।


बिहार के मद्य निषेध, उत्पाद एवं निबंधन विभाग के मंत्री की अध्यक्षता में आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी जिलाधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक हुई। जिसमें मोतिहारी जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक एवं एसपी नवीन चन्द्र झा भी शामिल हुए।


मंत्री ने कहा कि दूसरे राज्य से सटे बाॅडर क्षेत्रों में वाहनों की चेकिंग व्यापक पैमाने पर करना सुनिश्चित करें। खासकर झारखंड, उत्तर प्रदेश ,वेस्ट बंगाल से सटे सीमा क्षेत्रों में शराब पकड़ने के लिए विशेष चौकसी बरती जाए।
राज्यभर में ग्रामीण क्षेत्रों में अवैध शराब के निर्माण एवं पीने वालों पर कड़ी कार्रवाई करना सुनिश्चित करें। ग्रामीण क्षेत्रों में चौकीदार जमीनी स्तर पर सूचना देने के लिए रीढ़ की हड्डी का काम करते हैं।

इसलिए विशेष रुप से चौकीदार को जिम्मेदारी दी जाए। उनसे लिखित में प्रमाण पत्र लें कि उनके क्षेत्र में कोई अवैध शराब का निर्माण या बिक्री नहीं होता है। लापरवाह चौकीदारों पर कड़ी कार्रवाई करें। कहा कि शराब की धरपकड़ के लिए अतिरिक्त होमगार्ड, सैफ के जवान लगाएं। संबंधित पदाधिकारी मद्य निषेध नियमों का कड़ाई से पालन करें।

कहा कि रोड मैप तैयार कर सभी उत्पाद अधीक्षक एवं पुलिस पदाधिकारी अपने क्षेत्र में शराब माफियाओं के टॉप टेन का लिस्ट थाना स्तर पर तैयार कर उनपर कड़ी कार्रवाई करना सुनिश्चित करें। चिन्हित क्षेत्रों में सादा ड्रेस में स्पेशल टीम लगाकर एक साथ छापेमारी की कार्रवाई करना सुनिश्चित हो। साथ ही जन जागरूकता अभियान चलाकर लोगों को नशीली पदार्थों से वंचित रहने के लिए प्रेरित करें ।

मद्य निषेध अंतर्गत जब्त वाहनों की नीलामी शीघ्र करने का निर्देश दिया गया।‌ इस अवसर पर उत्पाद अधीक्षक एवं अन्य पदाधिकारी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़ें थें।

Post Slider

18
16
14
3
11
15
17
19
13
12
2
4
10
8
5
6
a2znews